मेरे जिन्दगी के पन्ने पलट कर देख मेरे दोस्त, सबसे मजेदार वो स्कूल और कॉलेज के पल मिलेगें।

मेरे जिन्दगी के पन्ने पलट कर देख मेरे दोस्त, सबसे मजेदार वो स्कूल और कॉलेज के पल मिलेगें।

ऐ-जिन्दगी कॉलेज वाले ख्वाब लौटा देना , मेरे बिछड़े मित्रो को दोबारा मिला देना।

ऐ-जिन्दगी कॉलेज वाले ख्वाब लौटा देना , मेरे बिछड़े मित्रो को दोबारा मिला देना।

बहुत याद आते है वो कॉलेज के यार जो साथ, मार खाने को भी रहते थे हमेशा तैयार।

बहुत याद आते है वो कॉलेज के यार जो साथ, मार खाने को भी रहते थे हमेशा तैयार।

अक्सर याद आता है कॉलेज का जमाना, दिल में इश्क़ और मन पढ़ाई में लगाना।

अक्सर याद आता है कॉलेज का जमाना, दिल में इश्क़ और मन पढ़ाई में लगाना।

अब उम्र बढ़ गई है पर दिल आज भी पुरानी यादों के पन्नो मे कॉलेज के दिन ही ढूँढता है।

अब उम्र बढ़ गई है पर दिल आज भी पुरानी यादों के पन्नो मे कॉलेज के दिन ही ढूँढता है।

कॉलेज के दोस्त कितने भी कमीने हो , कॉलेज खत्म होने के बाद उनकी यादे बहुत आती है।

कॉलेज के दोस्त कितने भी कमीने हो , कॉलेज खत्म होने के बाद उनकी यादे बहुत आती है।

कॉलेज आकर एक काम हर बार करता था, रास्ते में सबसे पहले तेरा इंतज़ार करता था।

कॉलेज आकर एक काम हर बार करता था, रास्ते में सबसे पहले तेरा इंतज़ार करता था।

कॉलेज की शरारतें अक्सर याद आती हैं, और दिल को खुशियों से भर जाती हैं।

कॉलेज की शरारतें अक्सर याद आती हैं, और दिल को खुशियों से भर जाती हैं।

अक्सर याद आता है कॉलेज का जमाना, दिल में इश्क और मन पढ़ाई में लगाना।

अक्सर याद आता है कॉलेज का जमाना, दिल में इश्क और मन पढ़ाई में लगाना।

वो कॉलेज के दिन मै कभी भुला ना पाऊँगा, वो मस्ती दोस्तो की दोस्ती रूला देती है।

वो कॉलेज के दिन मै कभी भुला ना पाऊँगा, वो मस्ती दोस्तो की दोस्ती रूला देती है।

जाता हूँ अभी भी कॉलेज की उन गलियों में, हर खिड़की में आज भी तू नज़र आती है।

जाता हूँ अभी भी कॉलेज की उन गलियों में, हर खिड़की में आज भी तू नज़र आती है।

कॉलेज के दिन भी कितने श्याने थे, हजारों वजह थी क्लास ना लेने की और क्लास लेने की सिर्फ तुम।

कॉलेज के दिन भी कितने श्याने थे, हजारों वजह थी क्लास ना लेने की और क्लास लेने की सिर्फ तुम।

याद है कॉलेज की उन किताबों में जो तुमने चुपके से गुलाब रख दिए थे, आज भी उन पन्नो में तुम्हारी खुशबु आती है।

याद है कॉलेज की उन किताबों में जो तुमने चुपके से गुलाब रख दिए थे, आज भी उन पन्नो में तुम्हारी खुशबु आती है।

आज भी जब कॉलेज के दोस्त मिल जाते हैं, तो दिल में जवानी के फूल खिल जाते हैं।

आज भी जब कॉलेज के दोस्त मिल जाते हैं, तो दिल में जवानी के फूल खिल जाते हैं।

कॉलेज में उससे जो कभी नोटस मांगे थे हमने, काम तो हुआ नहीं कॉपी पे दिल बनाते रहे सपने।

कॉलेज में उससे जो कभी नोटस मांगे थे हमने, काम तो हुआ नहीं कॉपी पे दिल बनाते रहे सपने।

स्कूल मे पढ़ा क्या था सही से याद नही पर, कॉलेज का हर एक दिन अच्छे से याद है।

स्कूल मे पढ़ा क्या था सही से याद नही पर, कॉलेज का हर एक दिन अच्छे से याद है।

स्कूल टाइम की वो पैटीज, कॉलेज टाइम के वो समोसे, कही और भी मिलता है क्या।

स्कूल टाइम की वो पैटीज, कॉलेज टाइम के वो समोसे, कही और भी मिलता है क्या।

तुम्हारी यादों के समंदर में गोता लगा आया हूँ, आज फिर मैं कॉलेज का चक्कर लगा आया हूँ।

तुम्हारी यादों के समंदर में गोता लगा आया हूँ, आज फिर मैं कॉलेज का चक्कर लगा आया हूँ।

याद आता है वो वक्त, कॉलेज मे टीचर का प्यार, और बहुत सारे कमीने यार।

याद आता है वो वक्त, कॉलेज मे टीचर का प्यार, और बहुत सारे कमीने यार।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here