Zid Shayari | Motivational Jid Status and Quotes (Images) in Hindi

लक्ष्य को पाने की जिद है दूर तक जाने की जिद है मात न खाने की जिद है हुनर दिखाने की जिद है।

दिल की अधूरी ख्वाहिशें बड़ा सताती है इन्हें पूरा करने की जिद सुकून दे जाती है।

तुमसे मिलने की जिद नासमझ दिल की है इस नादाँ को समझाना भी बड़ा मुश्किल है।

कोई इश्क़ पाने की जिद किये बैठा है कोई इश्क़ भुलाने की जिद किये बैठा है।

इश्क़ और प्यार में कभी कोई जिद मत करना हालात मजबूरी और उसके जज्बात को समझना।

जिद करो लक्ष्य को पाने की तुम क्या हो इस दुनिया को बताने की।

इंसान एक दिन दुनिया छोड़ देता है मगर पूरी जिन्दगी जिद नही छोड़ पाता है।

ये दिल तुम्हें खोना चाहता नही ये जिद करना भी जानता नही।

मेरी जिद को मेरा बचपना मत समझना रिश्ता तोड़ भी सकता हूँ तुम्हें छोड़ भी सकता हूँ।

इश्क़ को प्यार से दिल जीत कर पाते है जिद करके महबूब को दिल में नही बसाते है।

अगर तेरी जिद है भूल जाने की फिर जरूरत क्या थी देख कर मुस्कुराने की।

प्यार को प्यार से पाने की कोशिश करो जिद से जीवन में सफल होने की कोशिश करो।

प्यार करके रोया हूँ जिद करके खोया हूँ दिल में दर्द बहुत ज्यादा है इसलिए रजाई ओढ़कर सोया हूँ।

खुद को जीतने की जिद है मुझे खुद को ही हराना है भीड़ नही हूँ मैं दुनिया की मेरे अंदर एक जमाना है।

वो तो खुश्बू है हर इक वक़्त उसे बिखरना है दिल को क्यूँ जिद है कि उसे आगोश में भरना है।

जज्बात कहते है कि ख़ामोशी से बसर हो जाये दर्द की जिद है कि दुनिया को खबर हो जाये।

जिंदगी जीने का तरीका मेरा अलग है उम्मीद पर नही हम अपनी जिद पर जीते है।

नासमझ लोग रिश्ते छोड़ देते है लेकिन जिद नही छोड़ पाते है।

ना कर जिद ऐ दिल अपनी हद में रह वो बड़े लोग है अपनी मर्जी से याद करते है।

लक्ष्य भले पिद्दी हो पर हौसला जिद्दी हो।

तुम मेरी जिद नही जो पूरी हो तुम मेरी धड़कन हो जो जरूरी हो।



किसी के करीब जाने की जिद में मैं खुद से कितना दूर हो गया हूँ।

जिद में आकर रिश्तों को तोड़ा नहीं जाता दिल में बसने वालो को छोड़ा नही जाता।

बच्चों के जिद के आगे झुक जाना चाहिए मगर जिद गलत हो तो रूक जाना चाहिए।

प्यार जब बेहद होता है तो जिद की कोई हद नही होती है।

अपनी काबिलियत पर गुरूर हम आज भी नहीं करते है लिखा नही जो मुकद्दर में रब ने उसे पाने की जिद नही करते है।

इश्क़ से बचके रहना ये सब कुछ मिटा देगा जिद क्या चीज है ये तेरी राख तक को जला देगा।

बचपन में जिद खिलौनों की होती है जवानी में जिद मोहब्बत की होती है।

गुलाब पाने की जिद की थी काँटे चुभना तो लाजमी था।

जिन्हें कीमत पता होती है जिंदगी की वो कभी बद्दुआ नही देते है मौत की।

जिन्दगी में जिद से सब कुछ मिलता नही है जो मिलता है उसमें इन्सान खुश रहता नही है।

जिद में खुद से इतनी सी बात कही अगर वो पा सकता है तो मैं क्यूँ नही।

जिद आसमान छूकर दिखायेगी हकीकत मुझे मेरी औकात बताएगी।

इस छोटी सी जिन्दगी ने क्या क्या सिखाया है

मेहनत भी खूब होनी चाहिए जिद भी जीतने की होनी चाहिए।

बच्चे जिद करे तो अच्छा लगता है बीबी जिद करे तो गुस्सा लगता है।

कोई जिद नही थी तुम्हें पाने की मगर हद भी नही थी तुम्हे चाहने की।

बेपनाह मोहब्बत में बेइंतहा बेकरारी थी लेकिन दोनों को जिद भी बहुत प्यारी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.