Home Dialogs All Mirzapur Dialogues | Memes | Munna Bhaiya and Guddu Bhaiya Super Hit Lines

All Mirzapur Dialogues | Memes | Munna Bhaiya and Guddu Bhaiya Super Hit Lines

by BstStatus Author
mirzapur dialogues thumbnail
mirzapur-dialog13

जिंदगी हो तो मुन्ना भैया जैसी, जिंदा तो झांट के बाल भी है।

mirzapur-dialog9

हम है राजनेता चुतिया बनाना हमारा काम है, तुम्हारा नहीं।
लेकिन तुम कब से हमें ही चुतिया बनाये जा रहे हो।

mirzapur-dialog8

हिन्दी फिल्म के हीरो है हम, हमें कोई नहीं मार सकता।

mirzapur-dialog7

तकलीफ उनकी नहीं जो चले जाते है, तकलीफ उनकी होती है जो पिछे रह जाते है।

mirzapur-dialog5

चुतिया है वो (मुन्ना) ये इम्पोर्टेंट नहीं है, हमारा लङका है ये ईम्पोर्टेंट है।

mirzapur-dialog3

साँप को चाहे कितना भी दूध पिला दो,
एक बार दुश्मनी हो जाये तो दुश्मन ही रहता है।

यह भी देखे


mirzapur-dialog1-by-munna-bhaiya

हम इलेक्शन में खंङे हो रहे है इसका मतलब इलेक्श्न का रिजल्ट ऑलरेडी आ चुका है। by Munna Bhaiya

mirzapur-dialog2

मिड्डल क्लास आदमी, आदमी नहीं चुतिया होता है बे,
 अब चाहे तुम में कितना भी टेलेंट हो यही पैदा हुये हो और यहीं निपट जाओगे।

mirzapur-dialog12

बोसडिके हम अमर है, चुतिया नहीं।

mirzapur-dialog11

जब कुरबानी देने का टाईम आये तो कुरबानी सिपाही की दी जाती है,
राजा और राजकुमार तो जिंदा रहते है। सिर्फ गद्दी पर बैठने के लिये।

mirzapur-dialog10

जीत की गारंटी तभी है जब जीत और हार दोनो तुम्हारे नियंत्रण में हो।

mirzapur-dialog4

साले हॉर्न गां*ड में डाल देंगे भी, पो पो पो पो…
हेलीकॉप्टर बनके जाओगे क्या।

mirzapur-dialog6

व्यापार जब भी करो तो जो दो कानों के बीच है उसका इस्तेमाल करो,
जो दो टांगो के बिच है उसका नहीं।

mirzapur dialog14

बङे हरामी हो बेटा।


नेता बनना है तो गुंडे पालो, गुंडे मत बनाओ।

औरत चाहे चम्बल की हो या पूर्वांचल की, जब गन उठायी है तो इसका मतलब है की दिक्कत में है।

साला सब जगह शादी में डी. जे. चलता है लेकिन हमारे यूपी मे गोली चलती है।

हमको गन की मदद से डर नहीं बढाना है, डर की मदद से गनस बढानी है।

लोग कहते है राजनेता हरामी होते है, हरामी तो साली जनता होती है।
जो पैसा फेंकता है उसके साथ जाके सो जाती है।

साँप चाहे कितना भी जहरीला या दुश्मन बन जाये,
कंट्रोल सपेरे के हाथ में ही होता है।

ईज्जत नहीं करते, डरते है सब, और डर की यही दिक्क्त है कि यह कभी भी खत्म हो सकता है।

अटैक में भी गन और डिफेंस में भी गन, हम बनायेंगे मिर्ज़ापुर को अमेरीका।

आप हमको घर की ओनरशिप समझा रहे है हमको तो पूरा शहर लेना है।

विशुध्द चुतिये लङके हो तुम।

You may also like

Leave a Comment