आपकी इच्छाशक्ति के आगे दुनिया की कोई भी शक्ति टिक नही सकती है।
-संदीप माहेश्वरी

आपकी इच्छाशक्ति के आगे दुनिया की कोई भी शक्ति टिक नही सकती है। -संदीप माहेश्वरी

अरे मिलेगा भाई, इतना मिलेगा जितना तुम सपने में भी नहीं सोच सकते। पहले खिलाड़ी तो बनो, अपने खेल के पक्केि खिलाड़ी।
-संदीप माहेश्वरी

अरे मिलेगा भाई, इतना मिलेगा जितना तुम सपने में भी नहीं सोच सकते। पहले खिलाड़ी तो बनो, अपने खेल के पक्केि खिलाड़ी। -संदीप माहेश्वरी

दुनिया को आप तब तक नहीं बदल सकते जब तक आप खुद को नहीं बदलोंगे।
-संदीप माहेश्वरी

दुनिया को आप तब तक नहीं बदल सकते जब तक आप खुद को नहीं बदलोंगे। -संदीप माहेश्वरी

पहले आपको खुद के कमिटमेंट पुरे करने है, जब आप अपने खुद के कमिटमेंट पुरे नहीं कर पा रहे हो तो दुसरो को दिए हुए कमिटमेंट क्या पुरे करोगे।
-संदीप माहेश्वरी

पहले आपको खुद के कमिटमेंट पुरे करने है, जब आप अपने खुद के कमिटमेंट पुरे नहीं कर पा रहे हो तो दुसरो को दिए हुए कमिटमेंट क्या पुरे करोगे। -संदीप माहेश्वरी

सब कुछ बदला जा सकता है, अपनी जिंदगी में भी और पूरी दुनिया में भी, इस पूरी की पूरी दुनिया को नई डायरेक्शन दी जा सकती है उस डिजायर की वजह से अगर यह डिजायर सही डायरेक्शन में है तो, यही डिजायर अगर गलत डायरेक्शन में चली जाये तो इससे बड़ी विनाशकारी पॉवर भी इस पूरा दुनिया में कही नहीं।

सब कुछ बदला जा सकता है, अपनी जिंदगी में भी और पूरी दुनिया में भी, इस पूरी की पूरी दुनिया को नई डायरेक्शन दी जा सकती है उस डिजायर की वजह से अगर यह डिजायर सही डायरेक्शन में है तो, यही डिजायर अगर गलत डायरेक्शन में चली जाये तो इससे बड़ी विनाशकारी पॉवर भी इस पूरा दुनिया में कही नहीं।

बिज़नस में और चेस में ज्यादा फर्क नहीं है।
-संदीप माहेश्वरी

बिज़नस में और चेस में ज्यादा फर्क नहीं है। -संदीप माहेश्वरी

बस इतनी सी बात समझ लो कि ज़िन्दगी एक खेल हैं।
-संदीप माहेश्वरी

बस इतनी सी बात समझ लो कि ज़िन्दगी एक खेल हैं। -संदीप माहेश्वरी

अपनी सोच का जो सेण्टर पॉइंट है वो यह रखो कि क्या कुछ ऐसा हो सकता है कि मेरी लाइफ में चाहे कुछ भी हो जाये लेकिन दुःख न हो सिर्फ खुशिया हो, मैं कहता हूँ हां ऐसा हो सकता है, उसके लिए आपको हाइपर एक्टिव बनना होगा यानी हर वक्त प्रेजेंट मोमेंट में जी कर कुछ न कुछ सीखना होगा बजाये हर वक्त दिमाग में कुछ न कुछ सोचने के।

अपनी सोच का जो सेण्टर पॉइंट है वो यह रखो कि क्या कुछ ऐसा हो सकता है कि मेरी लाइफ में चाहे कुछ भी हो जाये लेकिन दुःख न हो सिर्फ खुशिया हो, मैं कहता हूँ हां ऐसा हो सकता है, उसके लिए आपको हाइपर एक्टिव बनना होगा यानी हर वक्त प्रेजेंट मोमेंट में जी कर कुछ न कुछ सीखना होगा बजाये हर वक्त दिमाग में कुछ न कुछ सोचने के।

न भागना है न रुकना है बस चलते रहना है चलते रहना है।
-संदीप माहेश्वरी

न भागना है न रुकना है बस चलते रहना है चलते रहना है। -संदीप माहेश्वरी

सफलता हमेशा अकेले में गले लगाती है, लेकिन असफलता हमेशा आपको सबके सामने तमाचा मारती है। यही जीवन है।
-संदीप माहेश्वरी

सफलता हमेशा अकेले में गले लगाती है, लेकिन असफलता हमेशा आपको सबके सामने तमाचा मारती है। यही जीवन है। -संदीप माहेश्वरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here