हम तो एक ही रिश्ता जानते हैं दिल वाला रिश्ता, और दिल में तो महाकाल मुस्कुरा रहा है, तोड़ सारे भ्रम दोष कृपा बरसा रहा है!

हम तो एक ही रिश्ता जानते हैं दिल वाला रिश्ता, और दिल में तो महाकाल मुस्कुरा रहा है, तोड़ सारे भ्रम दोष कृपा बरसा रहा है!

जिनके रोम-रोम में शिव हैं, वहीं विष पिया करते हैं, जमाना उन्हें क्या जलायेंगा, जो श्रृंगार ही अंगार से करते हैं!

जिनके रोम-रोम में शिव हैं, वहीं विष पिया करते हैं, जमाना उन्हें क्या जलायेंगा, जो श्रृंगार ही अंगार से करते हैं!

भोले के दरबार में, दुनिया बदल जाती है, रहमत से हाथ की, लकीर बदल जाती है, लेता है जो भी दिल से महादेव का नाम, एक पल में उसकी तकदीर बदल जाती है!

भोले के दरबार में, दुनिया बदल जाती है, रहमत से हाथ की, लकीर बदल जाती है, लेता है जो भी दिल से महादेव का नाम, एक पल में उसकी तकदीर बदल जाती है!

आता हूँ महाकाल तेरे दर पे, अपना शिर्ष झुकाने को, 100 जन्म भी कम हैं भोले, अहेसान तेरा चुकाने को!

आता हूँ महाकाल तेरे दर पे, अपना शिर्ष झुकाने को, 100 जन्म भी कम हैं भोले, अहेसान तेरा चुकाने को!

हे शिवशंकर, हे भोलेनाथ, जीतेंगे हम हर बाजी, बस देना हरपल साथ!

हे शिवशंकर, हे भोलेनाथ, जीतेंगे हम हर बाजी, बस देना हरपल साथ!

वही शुन्य हैं वही इकाई, जिसके भीतर बसा शिवाय!

वही शुन्य हैं वही इकाई, जिसके भीतर बसा शिवाय!

सिर्फ कह देने से कोई भगवान नहीं हो जाता, विष पान करना पड़ता हैं शिव शंकर की तरह!

सिर्फ कह देने से कोई भगवान नहीं हो जाता, विष पान करना पड़ता हैं शिव शंकर की तरह!

धन्य धन्य भोलानाथ तुम्हारी, कोडी नही खजाने मे, तीन लोक बसती मे बसा कर, आप रहे बीराने मे!

धन्य धन्य भोलानाथ तुम्हारी, कोडी नही खजाने मे, तीन लोक बसती मे बसा कर, आप रहे बीराने मे!

मौत की गोद में सो रहे हैं धुंए में हम खो रहे है महाकाल की भक्ति है, सबसे ऊपर शिव शिव जपते जाग रहे है, सो रहे हैं!

मौत की गोद में सो रहे हैं धुंए में हम खो रहे है महाकाल की भक्ति है, सबसे ऊपर शिव शिव जपते जाग रहे है, सो रहे हैं!

काल का भी उस पर क्या आघात हो, जिस बंदे पर महाकाल का हाथ हो!

काल का भी उस पर क्या आघात हो, जिस बंदे पर महाकाल का हाथ हो!

ना जीने की खुशी, ना मौत का गम, जब तक हैं दम, महादेव के भक्त रहेंगे हम!

ना जीने की खुशी, ना मौत का गम, जब तक हैं दम, महादेव के भक्त रहेंगे हम!

महादेव तेरे बगैर सब व्यर्थ हैं मेरा, मैं शब्द तेरा, तू अर्थ हैं मेरा!

महादेव तेरे बगैर सब व्यर्थ हैं मेरा, मैं शब्द तेरा, तू अर्थ हैं मेरा!

भागना मत मौत से एक एहसान चढ़ा देगी, जीवन के बाद म्रत्यु तुझे महादेव से मिला देगी, तेरी माया तूँ ही जाने, हम तो बस तेरे दीवाने!

भागना मत मौत से एक एहसान चढ़ा देगी, जीवन के बाद म्रत्यु तुझे महादेव से मिला देगी, तेरी माया तूँ ही जाने, हम तो बस तेरे दीवाने!

सर उठा के चलते हैं, भोलेनाथ की महेरबानी हैं, शिव की भक्ति करना मेरे जीवन की कहानी हैं!

सर उठा के चलते हैं, भोलेनाथ की महेरबानी हैं, शिव की भक्ति करना मेरे जीवन की कहानी हैं!

सारा ब्राम्हॉंन्ड झुकता हैं जिसके शरण में, मेरा प्रणाम हैं उन महाकाल के चरण में!

सारा ब्राम्हॉंन्ड झुकता हैं जिसके शरण में, मेरा प्रणाम हैं उन महाकाल के चरण में!

दुश्मन बनकर मुझसे जीतने चला था नादान, मेरे भोलेनाथ से मोहब्बत कर लेता तो मै खुद हार जाता!

दुश्मन बनकर मुझसे जीतने चला था नादान, मेरे भोलेनाथ से मोहब्बत कर लेता तो मै खुद हार जाता!

ना मैं उच नीच में रहूँ ना ही जात पात में रहूँ, महाकाल आप मेरे दिल में रहे, और मैं औक़ात में रहूँ!

ना मैं उच नीच में रहूँ ना ही जात पात में रहूँ, महाकाल आप मेरे दिल में रहे, और मैं औक़ात में रहूँ!

जब ज़माना मुश्किल में दाल देता हैं, तब मेरे भोले हज़ारों रास्ते निकाल देता हैं!

जब ज़माना मुश्किल में दाल देता हैं, तब मेरे भोले हज़ारों रास्ते निकाल देता हैं!

लोग तो लङकी के आशिक होते है, हम तो महादेव के दिवाने हैं!

लोग तो लङकी के आशिक होते है, हम तो महादेव के दिवाने हैं!

फिदा हो जाऊँ तेरी किस-किस अदा पर महाकाल अदायें लाख तेरी, बेताब दिल एक हें मेरा!

फिदा हो जाऊँ तेरी किस-किस अदा पर महाकाल अदायें लाख तेरी, बेताब दिल एक हें मेरा!

हँस के पी जाओ भांग का प्याला, क्या डर हैं, जब साथ हैं अपने त्रिशुल वाला! -जय भोलेनाथ

हँस के पी जाओ भांग का प्याला, क्या डर हैं, जब साथ हैं अपने त्रिशुल वाला! -जय भोलेनाथ

ये नशा किसी शीशी का नही जो उतर जाये, ये नशा नाथो के नाथ भोलेनाथ का हैं, जो चढ़ता ही जाय!

ये नशा किसी शीशी का नही जो उतर जाये, ये नशा नाथो के नाथ भोलेनाथ का हैं, जो चढ़ता ही जाय!

ना जाने किस भेष में आकर काम मेरा कर जाता हैं, मैं जो भी माँगू मेरा महादेव वो मुझको चुपके से दे जाता हैं!

ना जाने किस भेष में आकर काम मेरा कर जाता हैं, मैं जो भी माँगू मेरा महादेव वो मुझको चुपके से दे जाता हैं!

आग लगे उस जवानी कों, ज़िसमे भोलेनाथ नाम की दिवानगी न हो!

आग लगे उस जवानी कों, ज़िसमे भोलेनाथ नाम की दिवानगी न हो!

कृपा जिनकी मेरे ऊपर, तेवर भी उन्हीं का वरदान है, शान से जीना सिखाया जिसने, भोलेनाथ उनका नाम है!

कृपा जिनकी मेरे ऊपर, तेवर भी उन्हीं का वरदान है, शान से जीना सिखाया जिसने, भोलेनाथ उनका नाम है!

आँधी तूफान से वो डरते हैं, जिनके मन में प्राण बसते हैं, वो मौत देखकर भी हँसते हैं, जिनके मन में महाकाल बसते हैं!

आँधी तूफान से वो डरते हैं, जिनके मन में प्राण बसते हैं, वो मौत देखकर भी हँसते हैं, जिनके मन में महाकाल बसते हैं!

मस्तक सोहे चन्द्रमा, गंग जटा के बीच, श्रद्धा से शिवलिंग को, निर्मल जल मन से सीच!

मस्तक सोहे चन्द्रमा, गंग जटा के बीच, श्रद्धा से शिवलिंग को, निर्मल जल मन से सीच!

इतना ना सजा करो मेरे महाकाल आपको नज़र लग जायेगी, और उस मिर्ची की क्या औकात जो आपकी नज़र उतार पाएगी!

इतना ना सजा करो मेरे महाकाल आपको नज़र लग जायेगी, और उस मिर्ची की क्या औकात जो आपकी नज़र उतार पाएगी!

गरज उठे गगन सारा, समंदर छोड़े अपना किनारा, हिल जाये जहान सारा, जब गूंजे महाकाल का नारा!

गरज उठे गगन सारा, समंदर छोड़े अपना किनारा, हिल जाये जहान सारा, जब गूंजे महाकाल का नारा!

जिनके रोम-रोम में शिव हैं, वहीं विष पिया करते हैं, जमाना उन्हें क्या जलायेंगा, जो श्रृंगार ही अंगार से करते हैं!

जिनके रोम-रोम में शिव हैं, वहीं विष पिया करते हैं, जमाना उन्हें क्या जलायेंगा, जो श्रृंगार ही अंगार से करते हैं!

शव हूँ मैं भी शिव बिना, शव में शिव का वास, शिव मेरे आराध्य हैं, मैं हूँ शिव का दास!

शव हूँ मैं भी शिव बिना, शव में शिव का वास, शिव मेरे आराध्य हैं, मैं हूँ शिव का दास!

हँस के पी जाओ भांग का प्याला, क्या डर हैं, जब साथ हैं अपने त्रिशुल वाला!

हँस के पी जाओ भांग का प्याला, क्या डर हैं, जब साथ हैं अपने त्रिशुल वाला!

नही पता कौन हूँ मैं और कहा मुझे जाना हैं, महादेव ही मेरी मँजिल हैं और महाकाल का दर ही मेरा ठिकाना हैं!

नही पता कौन हूँ मैं और कहा मुझे जाना हैं, महादेव ही मेरी मँजिल हैं और महाकाल का दर ही मेरा ठिकाना हैं!

कोई दौलत का दीवाना, कोई शोहरत का दीवाना, शीशे सा मेरा दिल, मैं तो सिर्फ महादेव का दीवाना!

कोई दौलत का दीवाना, कोई शोहरत का दीवाना, शीशे सा मेरा दिल, मैं तो सिर्फ महादेव का दीवाना!

झुकता नही शिव भक्त किसी के आगे, वो काल भी क्या करेगा महाकाल के आगे!

झुकता नही शिव भक्त किसी के आगे, वो काल भी क्या करेगा महाकाल के आगे!

जैसे हनुमानजी के सीने में तुमको सियापति श्री राम मिलेंगे, सीना चीर के देखो मेरा तुमको बाबा महाकाल मिलेंगे!

जैसे हनुमानजी के सीने में तुमको सियापति श्री राम मिलेंगे, सीना चीर के देखो मेरा तुमको बाबा महाकाल मिलेंगे!

हीरे मोती और जेवरात तो सेठ लोग पहनते हैं, हम तो भोले के भक्त है इसीलिए “रुद्राक्ष” पहनते हैं!

हीरे मोती और जेवरात तो सेठ लोग पहनते हैं, हम तो भोले के भक्त है इसीलिए “रुद्राक्ष” पहनते हैं!

किसी ने मुझसे कहा इतने ख़ूबसूरत नहीं हो तुम, मैंने कहा महाकाल के भक्त खूंखार ही अच्छे लगते हैं!

किसी ने मुझसे कहा इतने ख़ूबसूरत नहीं हो तुम, मैंने कहा महाकाल के भक्त खूंखार ही अच्छे लगते हैं!

ना जीने की खुशी, ना मौत का गम, जब तक हैं दम, भोलेनाथ के भक्त रहेंगे हम!

ना जीने की खुशी, ना मौत का गम, जब तक हैं दम, भोलेनाथ के भक्त रहेंगे हम!

हम महाकाल नाम की शमा के छोटे से परवाने है, कहने वाले कुछ भी कहे हम तो महाकाल के दिवाने है!

हम महाकाल नाम की शमा के छोटे से परवाने है, कहने वाले कुछ भी कहे हम तो महाकाल के दिवाने है!

खौफ फैला देना नाम का, कोई पुछे तो कह देना, भक्त लौट आया हैं महाकाल का!

खौफ फैला देना नाम का, कोई पुछे तो कह देना, भक्त लौट आया हैं महाकाल का!

कैसे कह दूँ कि मेरी हर दुआ बेअसर हो गयी, मैं जब जब भी रोया, मेरे भोलेनाथ को खबर हो गयी!

कैसे कह दूँ कि मेरी हर दुआ बेअसर हो गयी, मैं जब जब भी रोया, मेरे भोलेनाथ को खबर हो गयी!

किस्मत लिखने वाले को भगवान कहते हैं, और बदलने वाले को भोलेनाथ कहते हैं!

किस्मत लिखने वाले को भगवान कहते हैं, और बदलने वाले को भोलेनाथ कहते हैं!

मन छोड़ व्यर्थ की चिंता तू, शिव का नाम लिये जा, शिव अपना काम करेंगे तू अपना काम किये जा!

मन छोड़ व्यर्थ की चिंता तू, शिव का नाम लिये जा, शिव अपना काम करेंगे तू अपना काम किये जा!

यह तेरा करम था की तूने मुझे अपना दीवाना बना दिया, मैं खुद से था पराया तूने अपना बना लिया!

यह तेरा करम था की तूने मुझे अपना दीवाना बना दिया, मैं खुद से था पराया तूने अपना बना लिया!

बाबा महाकाल के भक्त हैं, हर हाल में मस्त हैं, जिंदगी एक धुँआ हैं, इसलिए हम चिलम मैं मस्त हैं!

बाबा महाकाल के भक्त हैं, हर हाल में मस्त हैं, जिंदगी एक धुँआ हैं, इसलिए हम चिलम मैं मस्त हैं!

कण कण में भोलेनाथ आपका ही वास हैं, हर भक्त के लिए आप और हर भक्त आपके लिए खास हैं!

कण कण में भोलेनाथ आपका ही वास हैं, हर भक्त के लिए आप और हर भक्त आपके लिए खास हैं!

किस्मत लिखने वाले को भगवान कहते हैं, और बदलने वाले को भोलेनाथ कहते हैं!

किस्मत लिखने वाले को भगवान कहते हैं, और बदलने वाले को भोलेनाथ कहते हैं!

तिलक धारी सब पे भारी, जय श्री महाकाल पहचान हमारी!

तिलक धारी सब पे भारी, जय श्री महाकाल पहचान हमारी!

हे शिवशंकर, हे भोलेनाथ, जीतेंगे हम हर बाजी बस देना हरपल साथ!

हे शिवशंकर, हे भोलेनाथ, जीतेंगे हम हर बाजी बस देना हरपल साथ!

दुःख की घड़ी उसे डरा नही सकती, कोई ताकत उसे हरा नही सकती, और जिस पर हो जाये तेरी मेहर मेरे महादेव‬ फिर ये ‪दुनिया‬ उसे मिटा नही सकती!

दुःख की घड़ी उसे डरा नही सकती, कोई ताकत उसे हरा नही सकती, और जिस पर हो जाये तेरी मेहर मेरे महादेव‬ फिर ये ‪दुनिया‬ उसे मिटा नही सकती!

कैसे कह दूँ कि मेरी हर दुआ बेअसर हो गयी, मैं जब जब भी रोया, मेरे भोलेनाथ को खबर हो गयी!

कैसे कह दूँ कि मेरी हर दुआ बेअसर हो गयी, मैं जब जब भी रोया, मेरे भोलेनाथ को खबर हो गयी!

ऊँ नमः शिवाय शब्द में सारा जग समाए, हर इच्छा पूरी कर जाएँ भोले बाबा वो कहलाएँ!

ऊँ नमः शिवाय शब्द में सारा जग समाए, हर इच्छा पूरी कर जाएँ भोले बाबा वो कहलाएँ!

नजर पड़ी महाकाल की मुझ पर तब जाके ये संसार मिला, बड़े ही भाग्यशाली शिवप्रेमी है हम जो महाकाल का प्यार मिला!

नजर पड़ी महाकाल की मुझ पर तब जाके ये संसार मिला, बड़े ही भाग्यशाली शिवप्रेमी है हम जो महाकाल का प्यार मिला!

राम उसका रावण भी उसका, जीवन उसका मरण भी उसका, ताण्डव हैं और ध्यान भी वो हैं, अज्ञानी का ज्ञान भी वो हैं!

राम उसका रावण भी उसका, जीवन उसका मरण भी उसका, ताण्डव हैं और ध्यान भी वो हैं, अज्ञानी का ज्ञान भी वो हैं!

कोई कितनी कोशिश कर ले कुछ नही बिगाड़ सकता माई का लाल क्योंकि  जिसके हम बालक है नाम है महाकाल!

कोई कितनी कोशिश कर ले कुछ नही बिगाड़ सकता माई का लाल क्योंकि जिसके हम बालक है नाम है महाकाल!

वह अकेले ही पुरी दुनिया में मुर्दे कि भस्म से नहाते हैं, ऐसे ही नहीं वो कालो के काल महाकाल कहलाते हैं!

वह अकेले ही पुरी दुनिया में मुर्दे कि भस्म से नहाते हैं, ऐसे ही नहीं वो कालो के काल महाकाल कहलाते हैं!

ना गिनकर देता है, ना तोलकर देता है, जब भी मेरा महाकाल देता है, दिल खोल कर देता है!

ना गिनकर देता है, ना तोलकर देता है, जब भी मेरा महाकाल देता है, दिल खोल कर देता है!

भोले तूने तो सारी दुनिया तारी हैं, कभी मेरे सर पे भी धर के हाथ, कह दे चल बेटा आज तेरी बारी हैं!

भोले तूने तो सारी दुनिया तारी हैं, कभी मेरे सर पे भी धर के हाथ, कह दे चल बेटा आज तेरी बारी हैं!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here