Top Quotes by Facebook Founder & CEO Mark Zuckerberg in Hindi

भविष्य के लिये नेट न्यूट्रीलिटी बहुत ही मुख्यक डिस्कशन टॉपिक है।

भविष्य के लिये नेट न्यूट्रीलिटी बहुत ही मुख्यक डिस्कशन टॉपिक है।

हमें लगता है कि बिसनेस का एक सरल नियम यह है कि, यदि आप ऐसा करते हो जो पहले आसान हो, तो आप वास्तव में बहुत प्रगति कर सकते हैं।

हमें लगता है कि बिसनेस का एक सरल नियम यह है कि, यदि आप ऐसा करते हो जो पहले आसान हो, तो आप वास्तव में बहुत प्रगति कर सकते हैं।

मीडिया से ज्यादा किताबे किसी मुद्दे पर बेहतर और गहरी समझ पैदा करती है।

मीडिया से ज्यादा किताबे किसी मुद्दे पर बेहतर और गहरी समझ पैदा करती है।

आप को उस चीज को ढूँढना है, जिसे लेकर आप बहुत एक्साईटेड हों।

आप को उस चीज को ढूँढना है, जिसे लेकर आप बहुत एक्साईटेड हों।

डर के ऊपर उम्मीद का होना ही साहस है।

डर के ऊपर उम्मीद का होना ही साहस है।

जब मैं हार्वर्ड में पढ़ रहा था तो मैंने कुछ और भी चीजें बनायीं थीं जो एक तरह से फेसबुक के छोटे वर्शनस थे।

जब मैं हार्वर्ड में पढ़ रहा था तो मैंने कुछ और भी चीजें बनायीं थीं जो एक तरह से फेसबुक के छोटे वर्शनस थे।

मैंने 19 साल की उम्र में वेबसाइट शुरू की थी। मुझे व्यवसाय के बारे में बहुत कुछ पता नहीं था।

मैंने 19 साल की उम्र में वेबसाइट शुरू की थी। मुझे व्यवसाय के बारे में बहुत कुछ पता नहीं था।

सीधे शब्दों में कहें हम पैसे बनाने के लिए सेवाओं का निर्माण नहीं करते, हम पैसे बनाते हैं ताकि बेहतर सेवाओं का निर्माण कर सकें।

सीधे शब्दों में कहें हम पैसे बनाने के लिए सेवाओं का निर्माण नहीं करते, हम पैसे बनाते हैं ताकि बेहतर सेवाओं का निर्माण कर सकें।

लोगों को शेयर करने की शक्ति देकर, हम दुनिया को और अधिक पारदर्शी बना रहे हैं।

लोगों को शेयर करने की शक्ति देकर, हम दुनिया को और अधिक पारदर्शी बना रहे हैं।

मुझे वाकई लगता है आप देखेंगे कि संगठन सिर्फ अपने ब्रांड के बारे में अधिक देखभाल और आकर्षक दिख रहे हैं, और इसलिए मुझे लगता है होम डिपो अपने आपको मानवीय बनाना चाहेंगे। कंपनीयों ने ब्लॉग शुरू कर दिए हैं क्योकि वे बताना चाहते हैं कि उन लोगो के साथ क्या हो रहा हैं।

मुझे वाकई लगता है आप देखेंगे कि संगठन सिर्फ अपने ब्रांड के बारे में अधिक देखभाल और आकर्षक दिख रहे हैं, और इसलिए मुझे लगता है होम डिपो अपने आपको मानवीय बनाना चाहेंगे। कंपनीयों ने ब्लॉग शुरू कर दिए हैं क्योकि वे बताना चाहते हैं कि उन लोगो के साथ क्या हो रहा हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.