आपकी झूठी बात पर भी जो वाह वाह करेंगे वो ही दोगले लोग आपको तबाह करेंगे।

तू ले चल ऐ हवा मुझे दूर यहाँ से इस शहर में मेरे हमराज़ बहुत हैं।

शायद मैं गुलों पे ऐतबार भी कर लूं मगर भंवरे यहां धोखेबाज़ बहुत हैं।

किसको सुनाएं नादानियों के किस्से सब लोग यहाँ उम्रदराज़ बहुत हैं।

हर लड़की मतलबी नहीं होती छोड़ कर जाने वाली कुछ मजबूरिया होती है उनकी जिनसे अंदर अंदर घुटती रहती है वो।

बुरे वक्त की सबसे अच्छी बात यह है कि जब ये आता है तब मतलबी दोस्त दूर हो जाते है।

इस मतलबी दुनिया में दोस्ती सिर्फ इक दिखावा है तुझे भी धोखा मिलेगा ये मेरा दावा है।

मतलबी दुनिया के लोग खड़े है हाथों में पत्थर लेकर मैं कहाँ तक भागूँ शीशे का मुकद्दर लेकर।

जिन्दगी जीने का कुछ ऐसा अंदाज रखों मतलबी दोस्तों को नजरअंदाज रखों।

प्यासी ये निगाहें तरसती रहती है तेरी याद मे अक़्सर बरसती रहती है। हम तेरे खयालों मे डूबे रहते है और ये ज़ालिम दुनियां हम पर हंसती रहती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here