Aashiqui Shayari ॥ आशिकी शायरी

मैने ईश्क करने का मिजाज बदल दिया है अब तो बस तन्हाईयों सेआशिकी करते हैं।

मैने ईश्क करने का मिजाज बदल दिया है अब तो बस तन्हाईयों सेआशिकी करते हैं।

हद से गुजरने को बेकरार होती है ये तेरी आशिक़ी मुझे इतना क्यों बेचैन करती है।

हद से गुजरने को बेकरार होती है ये तेरी आशिक़ी मुझे इतना क्यों बेचैन करती है।

ज़िन्दगी आशिकों की आफत में सजा मिली उनको इश्क मोहब्बत में।

ज़िन्दगी आशिकों की आफत में सजा मिली उनको इश्क मोहब्बत में।

समुंदर बहा देने का जिगर तो रखते है लेकिन हमें आशिकी की नुमाइश की आदत नहीं है दोस्त।

समुंदर बहा देने का जिगर तो रखते है लेकिन हमें आशिकी की नुमाइश की आदत नहीं है दोस्त।

मैं आशिक हूं दिवाना क्या बिगाडे़गा मेरा जमाना सबको सिखा दूंगा प्यार करके प्यार को निभाना।

मैं आशिक हूं दिवाना क्या बिगाडे़गा मेरा जमाना सबको सिखा दूंगा प्यार करके प्यार को निभाना।

इशारों में बात करनी थी तो पहले बताते, हम शायरी को नही आँखों को सजाते।

इशारों में बात करनी थी तो पहले बताते, हम शायरी को नही आँखों को सजाते।

ना चाँद अपना था और ना तू अपना था काश दिल भी मान लेता की सब सपना था।

ना चाँद अपना था और ना तू अपना था काश दिल भी मान लेता की सब सपना था।

इस कदर तुझ से प्यार हुआ की हम बन बैठे आशिक तुम ही बता दो ए बेवफाक्या कमी थी मेरे प्यार में आखिर।

इस कदर तुझ से प्यार हुआ की हम बन बैठे आशिक तुम ही बता दो ए बेवफाक्या कमी थी मेरे प्यार में आखिर।

वादा ना करो अगर निभा ना सको, चाहो ना उसको जिसे तुम पा ना सको, दोस्त तो दुनिया में बहुत होते है पर एक खास रखो जिसके बिना तुम मुस्कुरा ना सको।

वादा ना करो अगर निभा ना सको, चाहो ना उसको जिसे तुम पा ना सको, दोस्त तो दुनिया में बहुत होते है पर एक खास रखो जिसके बिना तुम मुस्कुरा ना सको।

न खबर होगी तुम्हे मेरी आशिकी की सुना है सांसो की हद सिर्फ मौत होती है।

न खबर होगी तुम्हे मेरी आशिकी की सुना है सांसो की हद सिर्फ मौत होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.