Aansu Shayari | आँसू शायरी

इन आंखो की दुनिया भी अजीब है आंखो ही आंखो में प्यार कर बैठते हैं, आंसू निकलते हैं आंखो से पर दर्द इस मासूम दिल को दे जाते हैं।

इन आंखो की दुनिया भी अजीब है आंखो ही आंखो में प्यार कर बैठते हैं, आंसू निकलते हैं आंखो से पर दर्द इस मासूम दिल को दे जाते हैं।

नींद मे भी बहने लगते है हमारे आँख़ों से आंसू! जब कभी तुम ख़्वाबों मे मेरा हाथ छोंड़ देते हो!

नींद मे भी बहने लगते है हमारे आँख़ों से आंसू! जब कभी तुम ख़्वाबों मे मेरा हाथ छोंड़ देते हो!

अच्छा हुआ ये आँसू बेरंग है वरना हर सुबहमेरे तकिये का बदला हुआ रंग मेरी तन्हाई की हकीकत ब्यान कर देता!

अच्छा हुआ ये आँसू बेरंग है वरना हर सुबहमेरे तकिये का बदला हुआ रंग मेरी तन्हाई की हकीकत ब्यान कर देता!

रोकने की कोशिश तो बहुत की पलकों ने! पर इश्क में पागल थे आंसू खुदकुशी करते रहे!

रोकने की कोशिश तो बहुत की पलकों ने! पर इश्क में पागल थे आंसू खुदकुशी करते रहे!

छलकते आंसुओं को पलकों में छुपा नहीं सकता, मेरे कदम रोकते हैं मुझको उसके पास जा नहीं सकता, न जाने किसकी गलती थी कोई रूठ गया था मुझसे, आज उसे मनाने की ख्वाहिश तो है बहुत… पर दिल मजबूर है इतना कि उसे मना नहीं सकता।

छलकते आंसुओं को पलकों में छुपा नहीं सकता, मेरे कदम रोकते हैं मुझको उसके पास जा नहीं सकता, न जाने किसकी गलती थी कोई रूठ गया था मुझसे, आज उसे मनाने की ख्वाहिश तो है बहुत… पर दिल मजबूर है इतना कि उसे मना नहीं सकता।

भर आयी मेरी आँखे जब उसका नाम आया, इश्क नाकाम सही फिर भी बहुत काम आया, हमने मोहब्बत में ऐसी भी गुजारी कई रातें, जब तक आँसू न बहे दिल को आराम न आया।

भर आयी मेरी आँखे जब उसका नाम आया, इश्क नाकाम सही फिर भी बहुत काम आया, हमने मोहब्बत में ऐसी भी गुजारी कई रातें, जब तक आँसू न बहे दिल को आराम न आया।

इतना रोया मेरी मौत पे मुझे जगाने के लिए! मे मरता ही क्यूं अगर वो रो देता मुझे पाने के लिए!

इतना रोया मेरी मौत पे मुझे जगाने के लिए! मे मरता ही क्यूं अगर वो रो देता मुझे पाने के लिए!

जो मेरा था वो मेरा हो नहीं पाया! आँखों में आंसू भरे थे पर मैं रो नहीं पाया!

जो मेरा था वो मेरा हो नहीं पाया! आँखों में आंसू भरे थे पर मैं रो नहीं पाया!

लफ्ज़ बड़े ही सदे हैं पर बहुत ही प्यारे हैं, तुम किसी और के हो गए और हम आज तक तुम्हारे हैं।

लफ्ज़ बड़े ही सदे हैं पर बहुत ही प्यारे हैं, तुम किसी और के हो गए और हम आज तक तुम्हारे हैं।

अगर आंसू दिखते पहाड़ों के तो उन्हें कोई तोड़ता ही नहीं, अगर परख होती तुम्हे सच्चे प्यार की तुम हमारा दिल तोड़ते ही नहीं।

अगर आंसू दिखते पहाड़ों के तो उन्हें कोई तोड़ता ही नहीं, अगर परख होती तुम्हे सच्चे प्यार की तुम हमारा दिल तोड़ते ही नहीं।

हमारे आंखो ने कभी आंसू ना देखे थे, और तुम आये हमारी जिंदगी में आंसुओं की बरसात हो गई।

हमारे आंखो ने कभी आंसू ना देखे थे, और तुम आये हमारी जिंदगी में आंसुओं की बरसात हो गई।

होंठो की जुबान यह आँसू कहते है, जो चुप रहते है फिर भी बहते है, और इन आँसू की किस्मत तो देखिये, यह उनके लिए बहते है जो इन आँखों में रहते है।

होंठो की जुबान यह आँसू कहते है, जो चुप रहते है फिर भी बहते है, और इन आँसू की किस्मत तो देखिये, यह उनके लिए बहते है जो इन आँखों में रहते है।

आँसू भी मेरी आँख के अब खुश्क हो गए, तू ने मेरे ख़ुलूस की कीमत भी छीन ली।

आँसू भी मेरी आँख के अब खुश्क हो गए, तू ने मेरे ख़ुलूस की कीमत भी छीन ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.